मुख पृष्ठ arrow मार्ग निर्देश
Doordarshan Kendra Thiruvananthapuram | Wednesday, 16 January 2019
मुख्य विषय
मुख पृष्ठ
English
हमारे बारे में
मील पत्थर
संगाठनात्मक ढाँचा
पुरस्कार
संपर्क
दूरदर्शन समाचार
मलयालम समाचार
विपणन
मार्ग निर्देश
विज्ञापन(बुकिंग)
कार्यक्रम
कार्यक्रम
कार्यक्रम समय सारणी
कृषि दर्शन
अभियांत्रिकी
केन्द्र की प्रोफाइल
प्रेषित्र(ट्रान्समीटर)
तकनीकी सूचना
डी.टी.एच
सुनहरा संग्रहण
यशस्वी व्यक्तियों का दौरा
कला
अन्य दूरदर्शन साईट
डि‌ डि इनडिय।
डि‌ डि न्यूज़
डि‌ डि डी टी एच
प्रसार भारती
सूचना प्राप्त करने का अधिकार
आर.टी.आई.
निविदायें/कोटेशन
जांच - निगरानी कैमरा
जांच - चिलर मोटर
अस्वीकरण
अस्वीकरण
 
 
 
मार्गनिर्देश

 

 

दूरदर्शन केंन्द्र, तिरुवनंतपुरम

मार्गनिर्देश

1.                 प्रायोजित कार्यक्रम

(क) (i)   किसी भी ग्रहक या उत्पादन / सेवा का बुकिंग स्वीकार्य है ।  उत्पादन के मामले में मुफ़्त विज्ञापन  समय (एफ.सी.टी.) उस उत्पादन /सेवा के विज्ञापन  के लिए ही उपयोग किया जा सकता है । 

(ii)     प्रायोजक(को)/ग्राहक को स्वीकार्य विज्ञापन समय पर (उत्पादों की संख्या में रोक नहीं) को विज्ञापित करने की अनुमति है ।

(iii)            सभी कार्यक्रमों के लिए स्वीकृत विज्ञापन अन्तराल इस प्रकार है :  

अ)                30 मिनट स्लाँट के लिए 3 विज्ञापन अन्तराल, 45 मिनट स्लाँट के लिए 4 विज्ञापन अन्तराल और 60 मिनट स्लाँट के लिए 6 विज्ञापन अन्तराल की अनुमति है ।

ब)                बाहरी व्यक्ति द्वारा प्रस्तुत प्रायोजित कार्यक्रमों में मुफ़्त विज्ञापन  समय (एफ.सी.टी.) निर्माता द्वारा रखा जाता है ।

स)    दूरदर्शन को कार्यक्रमों के बीच में विज्ञापनों , चैनल पदोन्नति, आम सेवा के संदेश के लिए 30 मिनट स्लाँट में 60 सेकैंड और 60 मिनट स्लाट में 120 सेकैंड उपयोग करने का अधिकार है ।  इसके लिए निर्माता को आधे ब्रेक पर एक ब्रेक बम्पर देना होता है, ताकि दूरदर्शन से सामग्रियों को शामिल किया जा सकें । 

(iv)      किसी विशेष धारावाहिक / कार्यक्रम में भाग लेनेवाले कलाकार द्वारा अभिनीत विज्ञापनों को भी उसी कार्यक्रम के साथ प्रसारण के लिए स्वीकार किया जा सकता है ।

ख)           श्रेय पंक्ति

अ)      प्रायोजक(कों) को चैनल-1, चैनल-2, प्रादेशिक चैनलों और प्रादेशिक केन्द्रों के कार्यक्रमों में मुफ़्त विज्ञापन  समय के अतिरिक्त कार्यक्रम के आरम्भ एवं अंत में  20 सेकेंड की श्रेय पंक्ति/ वाक्य की छूट है ।  विविध  प्रायोजकों द्वारा लगातार जारी रहनेवाले कार्यक्रमों (जैसे फीचर फिल्म, खेलखूद आदि) के प्रत्येक 30 मिनिट स्लाट में श्रेय पंक्ति/ वाक्य कार्यक्रम में इस तरह से प्रसारित किए जाएंगे कि वह दर्शकों को कार्यक्रम देखने में बाधा न पहुँचाए ।

ब)     श्रेय पंक्ति के प्रसारण का नियंत्रण इस प्रकार होगा :

i)                   ग्राहक (कंपनी) के नाम पर प्रायोजित कार्यक्रमश्रेय पंक्ति  में निम्नलिखित शामिल होंगे

किसी अक्षरांकन / शैली चयन में कंपनी के नाम का दृश्यात्मक/दृश्यपरक प्रस्तुतीकरण / या आँडियो में नाम (चाहते है तो संगीत के साथ )

चाहे तो कंपनी के मानक लोगों का दृश्यात्मक प्रस्तुतीकरण, और, दृश्यात्मक प्रस्तुतीकरण के लिए कंपनी की कोई रंग स्कीम और ऐसा हो तो विशेष प्रभाव (special effect) के साथ ।

 

ii) उत्पादन के नाम पर प्रायोजित कार्यक्रमश्रेय पंक्ति में कंपनी का नाम, उच्चारित या किसी शैली में लिखित, संगीत रहित या संगीत के साथ ।  पंचलाइन के साथ     उत्पादन के प्रदर्शन की अनुमति है ।  प्रायोजक / पंचलाइन की अधिकतम अवधि 5 सेकेंड तक की है ।

नोटश्रेय पंक्ति की स्वीकृति की प्रक्रिया भी विज्ञापनों के समान ही है ।

 

2.                 प्रायोजकों की संख्या की अनुमति

क)          कार्यक्रम के लिए प्रायोजकों की संख्या की कोई सीमा नहीं है । 

ख)          प्रायोजकों को उत्पादन के पंचलाइन के रूप में जोडा जा सकता          है ।  इसकी कुल अवधि 5 सेकेंड से अधिक नहीं होनी चाहिए । 

3. पुनः प्रसारण कार्यक्रम

  किसी एक चैनल के लिए स्वीकृत कार्यक्रम का अर्थ यह नहीं है कि वह दूरदर्शन के दूसरे चैनलों में भी स्वीकृत हो सकता है ।  वर्तमान नीति के अनुसार चैनल में स्वीकृत करने के लिए कार्यक्रम करे नए रूप से पेश करना होगा ।  किसी चैनल में कार्यक्रम को पुनः प्रसारण के लिए प्रसारण शुल्क निम्नलिखित सूची के अनुसार होगी ।

दूरदर्शन 1 (प्रादेशिक) के कार्यक्रम को आर.एल.एस.एस. चैनल में 24 घंटों के भीतर एक बार और प्रसारित करने का अधिकार दूरदर्शन के पास सुरक्षित है, जिसके लिए अतिरिक्त प्रसारण शुल्क प्रभारित (चार्ज) नहीं किया जाएगा ।  पुनः प्रसारण  में उसी टेप को विज्ञापनों के साथ चलाई जाएगी ।

 

यदि कोई कार्यक्रम को उसी चैनल में पुनः प्रसारण  किया जाता है तो नये स्लाँट का प्रसारण शुल्क में 50 प्रतिशत अधिशुल्क प्रभारित किया जाएगा । 

 

यदि कोई कार्यक्रम डी.डी.2 में दूरदर्शन केंद्रों से पुनः प्रसारण  किया जाता है तो डी.डी.2 में स्लाँट के लिए एफ.सी.ची. में कोई बदलाव किए बिना डी.डी.2 में स्लाँट के प्रसारण / प्रायोकता शुल्क में 25 प्रतिशत अधिशुल्क जोडा जाएगा ।  आर.एल.एस.एस. के भीतर पुनः प्रसारण के लिए यह लागू नहीं होगा ।

 

यदि डी.डी.1 / डी.डी.2 से प्रादेशिक केंद्र / हिंदी बेल्ट में कार्यक्रम का पुनः प्रसारण  करते है तो, नए स्लाँट के प्रसारण शुल्क में 25 प्रतिशत अधिशुल्क प्रभारित किया जाएगा । 

 

यदि किसी एक प्रादेशिक केंद्र / हिंदी भाषी क्षेत्र से दूसरे केंद्र / हिंदी भाषी क्षेत्र में कार्यक्रम का पुनः प्रसारण  करते है तो, नए स्लाँट के प्रसारण शुल्क का प्रीमियम प्रभारित किया जाएगा ।  डी.डी. वल्ड से कोई कार्यक्रम दूरदर्शन के किसी चैनल में पुनः प्रसारित होगी तो नये स्लाँट के प्रसारण शुल्क में 10 प्रतिशत प्रीमियम प्रभारित किया जाएगा । 

 

अगर दूरदर्शन के किसी चैनल से डी.डी. वल्ड में कार्यक्रम का पुनः प्रसारण  होगा तो कोई अधिशुल्क प्रभारित नहीं किया जाएगा ।  दूरदर्शन के किसी भी चैनल से कोई भी कार्यक्रम यदि प्रादेशिक भाषा उपग्रह चैनलों में पुनः प्रसारित किए जाते है या उसके विपरीत स्थिति तथा साथ ही साथ प्रादेशिक उपग्रह चैनलों के भीतर यदि किसी कार्यक्रम का पुनः प्रसारण  किए जाते हो तो भी अधिशुल्क प्रभारित नहीं  किया जाएगा । 

 

सभी कार्यक्रम जो पहले आर.एल.एस.एस. चैनलों में आकर फिर दूरदर्शन 1 (प्रादेशिक) में पुनः प्रसारित  होते है तो डी.डी.1 को इसके समय बैन्ड में 30 सेकेंड का बोनस मिलेगा ।  उसे इसी कार्यक्रम में उपयोग करना होगा । 

 

3.                 ब्राडिंग (सभी कार्यक्रमों के लिए)

 

I)        यदि कोई कार्यक्रम को उसी चैनल में पुनः प्रसारण  किया जाता है तो नए स्लाँट का 50प्रतिशत अधिशुल्क प्रभारित (चार्ज) किया जाएगा । 

यदि कोई कार्यक्रम डी.डी.2 में प्रादेशिक केंद्रों से पुनः प्रसारण  किया जाता है तो डी.डी.2 में स्लाँट के लिए एफ.सी.टी. में कोई बदलाव किए बिना डी.डी.2 में स्लाँट के प्रसारण/प्रायोजकता शुल्क 25 प्रतिशत अधिशुल्क जोडा जाएगा । 

 

ii)                 ब्रांडिंड़ प्रशनोत्तरी शो, भेंटवार्ता और अन्य कार्यक्रमों में जहाँ कैमरा फ्रेम में मैक्रोफोन प्रकट होगा, वहाँ निर्माता उत्पादन के ब्रान्ड को कार्यक्रम के नाम के साथ मैक्रोफोन के घन में प्रदर्शित कर सकते हैं ।

 

    iii)       कार्यक्रम  प्रोमोस (promos)/ ब्रांडिंड़ प्रोमोस के लिए कोई प्रसारण शुल्क नहीं होगा ।  दूरदर्शन निम्नलिखित दिशा-निर्देशानुसार  ब्रांडिंड़ तथा ब्रान्ड रहित प्रोमोस को बिना शुल्क प्रसारित करते है । 

 

     चल रहे कार्यक्रमों और बहुत जल्द ही दूरदर्शन में आनेवाले कार्यक्रमों के लिए ब्रांडिंड़ और ब्रान्ड रहित प्रोमोस की अनुमति है । 

 

     दूरदर्शन द्वारा ऎसे प्रोमोस के लिए कोई प्रसारण शुल्क न लेने के कारण उनका प्रसारण दूरदर्शन के स्व विवेक पर निर्भर है ।

 

     प्रोमोस की अवधि बीस सेकेंड की होगी ।  ब्रांडिंड़ प्रोमोस के लिए कुल अवधि बीस सेकेंड से अधिक न लेते हुए, ब्रांडिंड़ के लिए अधिकतम पाँच सेकेंड का उपयोग किया जा सकता है ।

 

     ब्रांडिंड़ प्रयोजनों के लिए पैक शाट और उत्पादन का पांचलाइन या सेवा का उपयोग किया जा सकता है ।  एकरूपता लाने के लिए सभी ब्रांडिंड़/

श्रेय पंक्ति प्रोमोस का प्रसारण विन्डो में दिखानेवाले पैक शाट के अधीन ही होगा (कुल स्क्रीन का करीबन 2/3 आकार) ।  विज्ञापन के यथार्थ पांचलाइन के उपयोग  की अनुमति नहीं है ।  श्रेय पंक्ति अलग आवाज़ से दुहराना होगा, जैसे ..........इस कार्यक्रम के प्रायोजक है  ........ “  दूसरे शब्दों में

पैक शाट अलग विन्डो में दिखाना होगा और पांचलाइन के लिए उपयोग किए गए आवाज़ प्रोमोस के लिए उपयोग नहीं किया जा सकता ।

 

5.    बेंकिंग

कार्यक्रम के अंत तक सभी कार्यक्रमों के लिए 100 प्रतिशत  अविच्छिन्न बेंकिंग की अनुमति होगी ।  प्रत्येक प्रकरण, स्वीकृत एफ.सी.टी. + 60 सेकेंड बैंक एफ.सी.टी. (प्रति आधा घण्टा) से अधिक विज्ञापन नहीं लेंगे ।  कोई क्रास कार्यक्रम / चैनल बेंकिंग की अनुमति नहीं है ।  कार्यक्रम के समाप्ति

के साथ बेंकिंग खत्म हो जाएगी ।  उचित भुगतान व्यवहार का सरोकार रखनेवाले  निर्माता / एजेंसी हो तोदूरदर्शन अपने विवेकानुसार बेंकिंग कैप को और 60 सेकेंड तक बढा सकते है ।

 

6.शुल्क रद्द ( स्पाट बुकिंग के लिए)

 

एजेंसी द्वारा प्रसारण तिथि से 7 या अधिक दिनों की पूर्व सूचना देकर अनुबंध को रद्द कर सकते है ।  अगर सूचना, प्रसारण तिथि से 7 दिन कम हो तो अनुबंध के नियमानुसार बिल बना सकते है ।  अगर मार्केटिंग एजेंसी / निर्माताकार्यक्रम के आबंटन पर प्रायोजक विभाग के साथ  किए गए करार से पीछे हट जायें तो करार के अनुसार अधिदेशात्मक सूचना लागू की जा सकती है ।

 

7.विज्ञापन की अवधि

विज्ञापन 5 सेकेंड या 5 सेकेंड के गुणन की अवधि के स्वीकार किया जाएगा ।  5 सेकेंड से कम अवधि के विज्ञापन नहीं ली जाएगी ।  स्पाँट की  अवधि 5 सेकेंड से ज्यादा और 10 सेकेंड से कम हो तो उसपर 10 सेकेंड की शुल्क प्रभारित की जाएगी ।

 

8.समाचार से पूर्व समय की जाँच

 

5 से 10 सेकेंड में उत्पादन या ग्राहक के नाम मौन विज्ञापन के लिए अनुमति दी जाएगी ।  लोगो उत्पादन शाट या उत्पादन का विज्ञापन भी स्वीकृत होगा ।

 

9.निष्पादन की निगरानीः

सामान्य नियमानुसार एक कार्यक्रम के लिए मात्र 26 प्रकरण ही दिए जाएँगे और उन्हीं कार्यक्रमों की प्रकरण बढाई जाएगी, जो उस स्लाँट में अच्छा टी.आर.पी. रखता हो ।  जो कार्यक्रम टी.ए.एम.में कम रेटिंग रखता हो, उसे तुरंत ही हटा दिया जाएगा ।  टी.ए.एम. आँकडों के अनुसार, एक कार्यक्रम प्रसारित होने के दो सप्ताह के अन्दर तेरहवें सप्ताह में कार्यक्रम प्रतिष्ठित नहीं होता तो, यह साबित हो जाता है कि बाज़ार में व असफल है और तब उसे हटाकर, उसकी जगह नई धारावाहिक स्लाँट लगा दी जाती है ।

 

ख)  दूरदर्शन को प्रत्येक तिमाही या 13 प्रकरण के प्रसारण के बाद कार्यक्रम की श्रेणी की समीक्षा करने के लिए अधिकृत है ।  यह समीक्षा तिमाही के टी.आर.पी. रेटिंग में कार्यक्रम के निष्पादन पर आधारित होगी ।

 

10.             एक से अधिक समय बैन्ड में आनेवाले कार्यक्रम

लागू एफ.सी.टी. के साथ समान श्रेणी और समान प्रसारण शुल्क, कार्यक्रम के अंत कि जारी रहेगी ।  उदाहरण के लिए अगर एक धारावाहिक 9.30 बजे शुरू होता हो तथा 11.30 बजे तक चलता हो तो, वह वही प्रसारण शुल्क प्रति आधे घण्टे की दर पर 11.30 बजे तक देगी जो दर 9.30 बजे लागू थी ।  किसी कार्यक्रम के प्रसारण की श्रेणी को पदावनत/पदोन्नत करने का अधिकार दूरदर्शन के पास सुरक्षित है ।

 

11.             अनुमोदन रहित प्रसारण के लिए सजा ः

दूरदर्शन के लिए सभी विज्ञापनों का नियंत्रण, वाणिज्य  विज्ञापन संहिता द्वारा होगा ।  केवल उन्ही विज्ञापनों का प्रसारण किया जाएगा जिसका दूरदर्शन वाणिज्य सेवा से अनुमोदन प्राप्त हुआ हो ।  अनुमोदन के बिना कोई विज्ञापन का प्रसारण करने पर तो, उस एजेंसी को काली सूची में दर्ज की जाएगी और जिस कार्यक्रम में विज्ञापन का प्रसारण हुआ हो उसके साधारण स्पाट से भी 5 गुना अधिक दर सजा शुल्क प्रभारित किया जाएगा ।

12.             दर कार्ड के सभी मूल्य कुल रकम में है ।

13.             एकक की परिभाषा

स्पाट खरीद दर एकक  - 10 सेकेंड

प्रायोजक खरीद दर एकक  - 30 मिनट

दूरदर्शन में प्रसारण करने के लिए स्वीकृत सभी कार्यक्रमों की अवधि साधारणतया आधे घण्टे की होगी ।  आम सेवा प्रेषण, सामयिक मामले और बच्चों के कार्यक्रम जैसे श्रेणी में आनेवाले कार्यक्रमों की अवधि कम या अनियमित अवधि के हो सकते है ।  ऎसे मामलों में 5 मिनट के निकट एकक पर शुल्क प्रभारित की जाएगी ।  उपलब्ध एफ.सी.टी. भी प्रासंगिक स्लाट के यथानुपात आधार पर ही होगी ।

14.             सप्ताह में एक से अधिक बार प्रसारित कार्यक्रम

 

ऎसे कार्यक्रमों / धारावाहिकों जिसका प्रसारण सप्ताह में एक से अधिक बार होता है  उनके विज्ञापन शर्तों को लागू करने का उद्देश्य से किसी एक सप्ताह प्रसारित सभी प्रकरण को एक ही प्रकरण में गिना जाएगा ।  उदाहरण के लिए ऎसे धारावाहिक जिसका प्रसारण सप्ताह में 5 बार होता है, 130 प्रकरण को 26 प्रकरण की गिनती में ली जाएगी और 52 सप्ताहों के लिए 260 प्रकरण ।

15.             फिल्म पर आधारित कार्यक्रमों का श्रेणीकरणः

विभिन्न चैनलों में फिल्म पर आधारित और गैर फिल्मी आधारित

कार्यक्रमों का श्रेणीकरण एक मूल्यांकन समिति द्वारा ही निश्चित की जाएगी ।  यह श्रेणीकरण, कार्यक्रम की फिल्मी अन्तर्वस्तु पर निहित होगा और प्रसारण शुल्क/दर  प्रासंगिक स्लाट की प्रसारण शुल्क से 20 प्रतिशत ज्या़दा होगा ।  फिल्म पर आधारित कार्यक्रम का निर्वचन यह है कि इसके अन्तर्गत अल्बम गीत भी शामिल है ।

 

16.             पुरस्कार स्कीम और/या प्रतियोगिता स्कीम

क.                 पुरस्कार स्कीम / प्रतियोगिता स्कीम एफ.सी.टी. का भाग हो सकता है, लेकिन अगर वह स्वीकृत एफ.सी.टी. से अधिक हो जाए तो उत्पादन /एजेंसी को निम्नलिखित एकसमान दर अदा करना होगा ः

प्राइम टाइम            रु 5000/-

नान प्राइम टाइम        रु 3500/-

सभी आर.एल.एस.एस.   रु 500/-

पुरस्कार स्कीम / प्रतियोगिता, स्वीकृत एफ.सी.टी. का भाग नहीं है तो , वह ज्यादातर 1 मिनट तक का हो सकता है ।  पुरस्कार स्कीम में निर्माता / मार्केटिंग एजेंसी को पुरस्कार स्वरूप दिए जानेवाले अपने ब्राडिंग

उत्पादन को दिखाने और घोषणा करने की अनुमति होगी ।

17.             प्रायोजित गीत (प्रति गीत)

दिल्ली/एल.पी.टी. को छोड़कर सभी केंद्र रु 2000/-

18.             फिल्म का निर्माण

“  फिल्म का निर्माणजैसे कार्यक्रमों का प्रसारण शुल्क उस स्लाट के फिल्म पर आधारित श्रेणी के साधारण शुल्क का दुगुना होगा ।  अगर किसी केंद्र के दर कार्डों में संबंद्ध समय बैन्ड में फिल्म आधारित श्रेणी नहीं होगी तो , “  फिल्म का निर्माणके दुगुना प्रसारण शुल्क  प्रभारित करने से पूर्व उस समय बैन्ड के प्रसारण शुल्क   से 20 प्रतिशत अधिक शुल्क लगा दी जाएगी।  ऎसे कार्यक्रमों के लिए कोई एफ.सी.टी. की अनुमति नहीं है ।

19.             टेली शाँपिंगः

टेली शाँपिंगकार्यक्रमों के लिए, उस स्लाट के प्रसारण शुल्क  का दुगुना प्रभारित किया जाएगा ।  आर.एल.एस.एस. चैनलों में टेली शाँपिंग कार्यक्रमों के लिए प्रसारण शुल्क  उस स्लाट शुल्क के बराबर ही होगा जिसमें उसका प्रसारण होगा ।  ऎसे कार्यक्रमों के लिए एफ.सी.टी. की अनुमति नहीं है ।

 

20.             विशेष श्रेणी में आनेवाले कार्यक्रम

आम सेवा प्रेषण और बच्चों की श्रेणी, सामयिक मामलों के

अन्तर्गत आनेवाले कार्यक्रमों रियायत दर दी जाएगी, जोसूपर एऔर

स्लाट शुल्क प्रभारित किया जाएगा और उस स्लाट के लिए स्वीकृत एफ.सी.टी. दी जाएगी ।

 

     प्रायोजित कार्यक्रमों का चयन करने हेतु  प्रत्येक दूरदर्शन केंद्रों में गठित चयन समिति ऎसे श्रेणीकरण पर निर्णय लेने के लिए अधिकृत है ।

 

21.             सामान्य

चल रहे एम.जी. कार्यक्रमों के लिए यह दर कार्ड लागू नहीं करते है जो दूरदर्शन की आर्थिक स्थिति के लिए प्रतिकूल बन सकती है ।  दर कार्ड में अंकित दर न्यूनतम है जो प्रत्येक स्लाट के लिए प्रभारित किया जाना है ।  अगर किसी स्लाट के लिए दो से अधिक धारावाहिक प्राप्त होतो है तो, जो निर्माता ज्यादा प्रसारण शुल्क देने को तैयार है, उसे नियत स्वीकृत एफ.सी.टी. के साथ स्लाट दी जाएगी ।  विज्ञापन की तात्कालिक आवश्यकता के आधार पर, दूरदर्शन किसी कार्यक्रम को शामिल करते हुए वाणिज्यक शर्तों को बदल सकते है लेकिन किसी कार्यक्रम के श्रेणी को अवनत या पदोन्नत या कार्यक्रम और दूरदर्शन निर्मित/प्राप्त

कार्यक्रमों के लिए एफ.सी.टी. और एस.बी.आर में उचित संशोधन कर नहीं कर सकते है ।

दर कार्ड से संबंधित कोई विवाद या निर्वचन हो तो , दूरदर्शन का  निर्णय अंतिम होगा ।

22.             श्रेणीकरणः

1.   सूपरए विशेष

(i)      प्रादेशिक भाषा फिल्म पर आधारित फिल्म (ii)   इस तरह वर्गीकृत अन्य कार्यक्रम

2.       सूपर

(i)      शाम को 7 बजे से 8 बजे तक (सोमवार, मंगलवार, गुरूवार और शुक्रवार) और अन्य दिन यदि आबंटित किया जाय तो ।

(ii)   प्रादेशिक समाचार।  प्रादेशिक समाचार के पूर्व स्पाट भी सूपर

क अन्तर्गत होगा (फिल्म  रहित) अन्यथा विशेष रूप से उल्लेखित हो ।

3.   ’ए विशेष

(i)      रोज़ाना शाम 7 बजे से पहले समाचार और सामायिक मामलों के

अतिरिक्त गैर फिल्मी कार्यक्रम ।

4.   ’

(i)      रोज़ाना शाम 6.30 बजे से 7 बजे तक ।

(ii)   सुबह 8.30 बजे से 9 बजे तक ।

(रविवारसुबह/दोपहर के बाद)

(बशर्तें प्रादेशिक केंद्र के पास स्लाँट हो )

(दिल्ली   /  एल.पी.टी को छोडकर)

5.   ’बी

(i)      रोज़ाना शाम 6.30 बजे से पहले दिल्ली  और एल.पी.टी को छोडकर ।

नोटः शाम 7 बजे से पहले फिल्म पर आधारित सीरियल को सूपर’ (गैर फिल्म आधारित) के रूप में प्रभारित किया जाएगा ।  दूरदर्शन

द्वारा निर्मित कार्यक्रमों को भी उसी श्रेणी में लेंगे ।

 

सूचनाः  शाम 7 बजे से पूर्व के  फिल्म पर आधारित धारावाहिकों को सूपर’ (फिल्म  रहित आधार) पर शुल्क लगा दी जाएगी ।  दूरदर्शन

द्वारा निर्मित कार्यक्रम भी इसी श्रेणी में आएगी ।  अथवा विशेष रूप से उल्लेख हो, प्रादेशिक समाचार से पहले एस.बी.आर., सूपर’(गैर फिल्मी)

श्रेणी के आधार पर शुल्क प्रभारित की जाएगी ।  मिड स्पाट समाचार के

लिए विद्यमान स्पाट खरीद दर पर 25 प्रतिशत अधिशुल्क प्रभारित की

जाएगी ।

 

 
 
   
     

 
Advertisement

Site - designed,developed & hosted by National Informatics Centre, Kerala State